liveindia.news

Dattatreya Hosabale बने संघ के सरकार्यवाह

कर्नाटक में बेंगलुरू के चेन्नहल्ली के विद्या केंन्द्र में चल रही RSS की बैठक में Dattatreya Hosabale को सर्वसम्मति से तीन वर्षों के लिए संघ का सरकार्यवाह चुन लिया गया है. होसबले अब भैयाजी जोशी की जगह लेंगे. भैयाजी जोशी सरकार्यवाह का दायित्व संभाल रहे थे, बीते दिनों उन्होंने सरकार्यवाह के पद से मुक्त करने का आग्रह किया था. 

बता दें कि Dattatreya Hosabale कर्नाटक के शिमोगा से आते हैं. संघ में सरकार्यवाह का पद सबसे बड़ा पद होता है. RSS के नियमों के अनुसार ये पद तीन साल के लिए होता है. भैयाजी जोशी पिछले चार बार से इस अहम पद को संभाल रहे थे. दत्तात्रेय होसबले को संघ की प्रतिनिधि सभा ने सर्वसम्मति से अगले तीन वर्षों के लिए चुन लिया है. 

ये भी बता दें कि RSS में सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण पद सरसंघचालक होता है, जिसपर वर्तमान में मोहन भागवत पदस्थ हैं. संघ में लिए जाने वाला अंतिम निर्णय सरसंघचालक ही लेता है. हालांकि ये पद एक तरह से मार्गदर्शक का पद होता है.

जानिए, कौन हैं Dattatreya Hosabale 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के नए सरकार्यवाह के रूप में 'दत्ता जी' के नाम से मशहूर Dattatreya Hosabale, सुरेश भैयाजी जोशी के बाद नए सरकार्यवाह हैं. नियुक्ति की घोषणा अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में की गई जो RSS का सर्वोच्च निर्णय लेने वाला निकाय है.

Dattatreya Hosabale 1978 में एक पूर्णकालिक ABVP के कार्यकर्ता बन गए. वो 15 वर्षों तक ABVP के महासचिव रहे. Dattatreya Hosabale कर्नाटक के शिवमोग्गा जिले के एक छोटे से गांव सोरबा तालुक से हैं. Dattatreya Hosabale 1968 और 1972 में RSS के छात्र संगठन ABVP में शामिल हुए थे.

1954 में 1 दिसंबर को जन्मे Dattatreya Hosabale ने बेंगलुरु विश्वविद्यालय से अंग्रेजी साहित्य में अपनी मास्टर डिग्री प्राप्त की. Dattatreya Hosabale तीन साल के लिए RSS के महासचिव होंगे. बता दें महासचिव का चुनाव तीन साल में एक बार होता है.


Leave Comments