liveindia.news

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में स्वाइन फ्लू से 19 दिन के भीतर 13 लोगों की मौत

राजधानी में स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. सरकार दावा कर रही है कि उनके पास इलाज के पर्याप्त इंतजाम हैं. इसके बाद भी अब तक भोपाल में 19 दिन के भीतर 13 लोगों की जान स्वाइन फ्लू से जा चुकी है. लेकिन सरकार अभी तक यह भी नहीं बता पा रही है कि स्वाइन फ्लू के वायरस में कोई बदलाव हुआ है या नहीं. जबकि दिल्ली और गुजरात और राजस्थान में हो रही मौतों में सरकार ने वायरस में हुए बदलाव का पता लगाया जा चुका है.

मंगलवार को भी इस वायरस से हमीदिया अस्पताल में 40 साल के एक व्यक्ति की मौत हो गई. वहीं सागर से आए एक 6 साल के बच्चे की मौत रेनबो अस्पताल में हो गई. गौरतलब है कि स्वाइन फ्लू से मौत का सिलसिला 10 अगस्त से शुरू हुआ था. प्रदेश में अब तक करीब 25 लोगों ने फ्लू से पीड़ित होने के बाद दम तोड़ चुके हैं. हेल्थ डायरेक्टर का कहना है कि ज्यादातर मौतों में यह देखने में आया है कि व्यक्ति जब ज्यादा गंभीर होता है तभी अस्पताल जाता है. पूरे प्रदेश में जिन मरीजों की स्वाइन फ्लू से मौत हुई है उनमें से ज्यादातर ने अस्पताल पहुंचने के 48 घंटे के भीतर दम तोड़ दिया.

अलर्ट जारी- फिर भी ये हैं हाल

- 19 पॉजिटिव मरीज इस बीमारी के मिले शहर में
- 10 सैंपल जांच के लिए राजधानी से मंगलवार को भेजे
- 561 मरीजों की जांच की जा चुकी है प्रदेशभर में

प्रदेश में 113 लोगों को स्वाइन फ्लू

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक एक जुलाई से अब तक भोपाल में 19 पॉजीटिव मरीज स्वाइन फ्लू के मिले हैं. प्रदेश में इसकी संख्या 113 है. प्रदेशभर में 561 संदिग्ध मरीजों की जांच हो चुकी है. मंगलवार को 59 सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे. इसमें से 4 पॉजिटिव मरीज मिले हैं.


Leave Comments