liveindia.news

मूवी रिव्यू : देखने से पहले जान लें कैसी है कुली नंबर वन

बॉलीवुड में इन दिनों रीमेक फिल्मों का दौर जारी है. पुराने ज़माने की हिट फिल्मों का ये रीमेक वर्जन कुछ लोगों को पसंद आता है तो कुछ को नहीं. रीमेक फिल्मों की लिस्ट में अब वरुण धवन और सारा अली खान की फिल्म कुली नंबर वन का नाम भी अब जुड़ गया है. इस फिल्म का ट्रेलर और गाने जब रिलीज़ किये गए थे तब लगा था की फिल्म में कुछ नया पन देखने को मिलेगा. अगर आप भी कुली नंबर वन देखने का प्लान बना रहे है तो एक बार जरूर जान लें की कैसी है वरुण और सारा की यह फिल्म. 

 कहानी : फिल्म की कहानी है राजू नाम के एक लड़के की, जो बचपन में एक रेलवे स्टेशन पर अपनी मां से बिछड़ जाता है और फिर उसकी जिंदगी रेलवे स्टेशन पर ही गुजरने लगती. राजू बड़ा होकर एक कुली बन जाता है और उसकी दिलदारी और काम के लिए उसे नंबर 1 का टैग दिया गया है. राजू अपने दोस्त दीपक संग मिलकर शादी के लिए लड़की का हाथ मांगने जाता है लेकिन उसके कुली होने की वजह से लड़की का बाप मन कर देता है. 

वहीं फिल्म के दूसरे किरदार  जेफ्री रोजारियो (परेश रावल) अपनी बेटियों- सारा (सारा अली खान) और अंजू (शिखा तलसानिया) के लिए लड़कों की तलाश कर रहे होते हैं. जेफ्री को अपनी बेटियों के लिए ऐसे लड़के खोज रहे होते हैं जो खानदानी रईस हो.   ऐसे में जेफ्री, पंडित जय किशन (जावेद जाफरी) का लाया रिश्ता ठुकरा देता है, जिसके बाद जय किशन ये शपत लेता है कि जेफ्री की बेटी की शादी किसी ऐरे-गैरे से करवाकर ही मानेगा. ऐसे में वरुण और सारा का मिलान कैसे होता है और फिल्म का क्लाईमैक्स क्या है, इसके लिए आपको ज़रूर देखनी पड़ेगी कुली नंबर वन. 

पुरानी वाली कुली नंबर वन की तरह ही इस फिल्म में भी कहानी कुछ ख़ास नहीं है. फिल्म में वरुण धवन राजू के किरदार में बिलकुल फिट बैठते हैं. वहीं सारा अली खान संग उनका रोमांस में देखने लायक है. कहानी में ख़ास दम नहीं है, लेकिन फिर भी वन टाइम वाच ज़रूर है कुली नंबर वन .


Leave Comments