liveindia.news

दिल्ली की 48 हजार झुग्गियों पर चला मोदी बुलडोजर

देश की राजधानी दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली रेलवे लाइन के पास बसी 48 हजार झुग्गियों में रहने वाले करीब 2 लाख लोगों के आशियानों पर बुलडोजर चलने वाला है और भारतीय जनता पार्टी ने साफ कह दिया है की हम नहीं रोक पाएंगे, यह तो सप्रीम कोर्ट का आदेश है. यह बात वही भारतीय जनता पार्टी का कहना है, जिसके प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में कहा था की मेरा एक सपना है, जहां झुग्गी वहीं पक्का मकान 2022 जब भारत की आजादी के 75 साल होंगे, तब दिल्ली के हर झुग्गी झोपड़ी वाले को अपना पक्का घर दिया जाएगा. लेकिन आज गरीबों के आशियानों पर जेसीबी बुलडोजर चलने वाला है और देश के माननीय प्रधानमंत्री खामोशी से देख रहे है. 

वही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा की में अपने जीते जी इन झुग्गियों को नहीं उजड़ने दूंगा. लेकिन पीएम नरेन्द्र मोदी और अमित शाह की पार्टी कह रही है की केजरीवाल झुग्गियों को उजाड़ने से रोककर सरकारी काम में बाधा पैदा कर रहे है, उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए. शायद बीजेपी वाले इसलिए बोल रहे है क्योंकि पीएम मोदी के जहां झुग्गी वहां पक्का मकान वाला बयान बेपर्दा हो जाएगा.

अब कहां गई कंगना रनौत जब उनके घर का छज्जाभर टूटा तो पूरा देश आपके साथ खड़ा हो गया. लेकिन यहां तो 2 लाख लोगों के आशियानों को उजाड़ा जा रहा है. अब कंगना क्यों नहीं लिखती ट्वीटर पर की मोदी जी गरीबों पर हो रहे जुल्म को रोकिए, लोकतंत्र पर आफत है. अब कंगना क्यों नहीं लिख रही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चिट्ठी जैसे सोनिया गांधी को लिखी थी. पूरा देश कंगना को लक्ष्मीबाई बोल रहा है. क्या कंगना लक्ष्मीबाई के रूप में दिल्ली की झुग्गिवायिों के साथ न्याय के लिए धरने पर बैठेंगी, यह तो देखना बाकी है.


Leave Comments