liveindia.news

सिक्किम मुख्यमंत्री के सत्ता में 23 वर्ष पूरे

सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग ने मंगलवार को हिमालय राज्य में अपने 23 वर्षों को पूरा किया जिस दौरान वे काफी संतुष्ट दिखाई दिए. उन्होंने सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट पार्टी के शासनकाल के दौरान 1994 में गरीबी के नीचले स्तर के परिवारों की संख्या कम करने और प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोत्तरी का दावा किया था.

चामलिंग ने अपनी सरकार के 23 साल पूरे करने के अवसर पर एक समारोह में कहा "जब 1994 में मेरी सरकार सत्ता में आई, हर तरफ गरीबी थी 41 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा के नीचे थे, वर्तमान में यह आंकड़ा केवल 8 प्रतिशत रह गया है. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि 1994 में प्रति व्यक्ति सूचकांक 9,300 रुपये था और अब यह लगातार बढ़ते हुए 2.91 लाख रुपये हो गया है. 

एसडीएफ के संस्थापक ने कहा कि उनकी सरकार ने अगले साल सीमावर्ती राज्य को पूरी तरह से साक्षर राज्य बनाने के लिए एक मिशन पर काम किया जा रहा है. सिक्किम में नवीनतम आंकड़ों के मुताबिक 82.6 प्रतिशत साक्षरता दर है.

चामलिंग ने कहा, "मैंने हमेशा सिक्किमी समाज के धर्मनिरपेक्षता और सांप्रदायिक राजनीति की रक्षा के लिए कड़ी मेहनत की है," साथ ही आशा व्यक्त की, कि लोग इस भावना को बनाए रखेंगे. पिछले साल सिक्किम को पूरी तरह से जैविक राज्य घोषित करने के बाद उन्होंने कहा कि राज्य के बाहर से आने वाले जहरीले रसायनों के इस्तेमाल से पकने वाले केले और आमों की आपूर्ति अगले साल से प्रतिबंधित हो जाएगी. 


Leave Comments