liveindia.news

Mahakumbh 2021 : हरिद्वार Mahakumbh में फटा Corona बम, ज़िम्मेदार कौन ?

उत्तराखंड डेस्क : देवभूमि उत्तराखंड के हरिद्वार में आयोजित हो रहे हरिद्वार महाकुंभ (Mahakumbh 2021) से ऐसी खबरें सामने आ रही हैं, जिससे कोरोना महामारी का डर और बढ़ गया है. महाकुंभ में दूसरे शाही स्नान के बाद कोरोना का विस्फोट हुआ है. जिससे पूरा प्रशासन चिंतित हो गया है. 

20 साधु , 102 तीर्थयात्री संक्रमित

खबरों के अनुसार,महाकुंभ (Mahakumbh 2021) में आयोजित हुए दूसरे शाही स्नान के बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या काफी बढ़ गई है. यहां 102 तीर्थयात्री और 20 साधु कोरोना संक्रमित पाये गये हैं. दूसरे शाही स्नान के  दौरान कोरोना गाइडलाइन्स का पालन नहीं किया जा रहा है. 

कई धार्मिक संगठनों का टेस्ट कराने से इंकार 

आपको बता दें कि, महाकुंभ (Mahakumbh 2021) में कई धार्मिक संगठनों ने अपना कोरोना टेस्ट तक कराने से इंकार कर दिया है. ऐसे में अगर वो संक्रमित होते भी हैं तो उनके साथ अन्य लोगों के भी संक्रमित होने की संभावनाएं बढ़ जाती है. 

इस लापरवाही का ज़िम्मेदार कौन 

हरिद्वार महाकुंभ  (Mahakumbh 2021)  से सामने आ रही ऐसी ख़बरों के बाद अब सवाल यह उठता है कि, आखिर इस लापरवाही के लिए कौन ज़िम्मेदार होगा? प्रशासन या आम जनता. क्योंकि महाकुंभ में ना ही कोरोना नियमों का पालन हो रहा है और ना ही नियमों का उलंघन करने वालों में कोई कार्रवाई. 

सीएम तीर्थ सिंह रावत ने दिए बेतुके बयान

उत्तराखंड के हाल ही में मुख्यमंत्री बने तीर्थ सिंह रावत ने इस मामले पर कोई एक्शन लेने के बजाए बेतुके बयान देने शुरू कर दिए है. महाकुंभ को लेकर उन्होंने कहा कि, 'यहां पवित्र नदी गंगा है, यहां से कोरोना नहीं फैलेगा. साथ ही महाकुंभ की तुलना मरकज से करना भी गलत होगा. सीएम के इस बयान के सामने आने के बाद अब एक बार फिर उनपर उंगलियां उठनी शुरू हो गई है. 

 


Leave Comments