liveindia.news

दरहाग के मैनेजर से मिली पाकिस्तानी करेंसी, मचा हड़कंप

दरहाग के मैनेजर से मिली पाकिस्तानी करेंसी, मचा हड़कंप

बीते महीनों पहले रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किए गए पिरान कलियर दरगाह के मैनेजर से पूछताछ में बड़ा खुलासा हुआ है. पुलिस ने जब मैनेजर की अलमारी खोली तो एक चौंका देने वाला मामला सामने आया. अलमारी में पुलिस को पाकिस्तानी नोटों की आठ चादर और कुछ कीमती गहने मिले है, जो दरगाह के रिकार्ड में दर्ज नहीं है. पुलिस को आशंका है कि आरोपी ने इन्हें दरगाह की अलमारी में छिपाकर रखा था. 

उत्तराखंड विजिलेंस ने 9 जून को दरगाह के मैनेजर हारून अली को 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा था. आरोपी पर पंजिका में नाम दर्ज करने को लेकर दरगाह के सुपरवाइजर से पैसे की मांग की थी. जिसमें बाद विजिलेंस ने आरोपी को रंगे हाथ पकड़कर कार्यालय को सील कर दिया था. मामले की जांच के बाद तत्कालीन प्रबंधक के कार्यालय की तलाशी ली गई, कार्यालय की एक अलमारी को जब पुलिस ने खोला तो सभी दंग रह गए. पुलिस ने आरोपी की अलमारी से पाकिस्तान के नोटों की करीब आठ चादर बरामद की है. साथ ही भारतीय नोटों की चादरे भी बरामद की है.

अधिकारियों के अनुसार दरगाह पर चढ़ाया गया कोई भी सामान या नगदी अपने पास रखने का किसी को अधिकार नहीं है. दरगाह को मिली भेंट दरगाह के स्टोर में जमा करना होता है. लेकिन मैनेजर की अलमारी से पाकिस्तानी करेंसी मिलने के बाद दरगाह के रिकार्ड की जांच की गई तो आलमारी में से मिला कोई भी सामान रिकार्ड में दर्ज नहीं था. खास बात यह है कि जब कोई विदेशी मुद्रा दरगाह पर चढ़ाई जाती है, तो उसे दरगाह के खातों वाले बैंक को दी जाती हैं, लेकिन मैनेजर ने ऐसा नहीं किया. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है.


Leave Comments