liveindia.news

जोबट विधानसभा सीट से विक्रांत भूरिया कांग्रेस उम्मीदवार!

जोबट विधानसभा सीट से विक्रांत भूरिया कांग्रेस उम्मीदवार!

जोबट विधानसभा सीट से विक्रांत भूरिया कांग्रेस उम्मीदवार!

मध्यप्रदेश में उपचुनाव के लिए चुनावों की तारीख ऐलान होते ही कांग्रेस-बीजेपी ने दम दिखाना शुरु कर दिया है. दोनों ही दलों में टिकट को लेकर प्रत्याशियों की होड़ लग गई है. उपचुनाव की इसी कड़ी में जोबट विधानसभा में भी उपचुनाव की घड़ी निकट आ गई है. जोबट की जनता लगातार अपना मूड बदलती आई है. साल 2018 में कांग्रेस ने भाजपा को शिकस्त दी थी. कांग्रेस ने झाबुआ जिला पंचायत की अध्यक्ष कलावती भूरिया को मैदान में उतार था और चुनाव भी जीती थी. लेकिन कलावती भूरिया के निधन के बाद यह सीट खाली हो गई, जिसपर अब उपचुनाव होना है.

यह भी पढ़े - क्या दिग्विजय सिंह ने ले ली है कमलनाथ की जगह?
यह भी पढ़े - उमा के बाद BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दी धमकी

चुनावी इतिहास के मुताबिक जोबट सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट रही है. लेकिन कलावती भूरिया के निधन के बाद अब कांग्रेस अपनी सीट बचाने की रणनीति में लगी है. माना जा रहा है कि प्रदेश में आदिवासी मुद्दा गरमाया हुआ है. ऐसे में कांग्रेस दिवंगत विधायक कलावती भूरिया के चचेरे भाई व प्रदेश युवक कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया को जोबट विधानसभा से मैदान में उतार सकती है. कांग्रेस का मानना है कि पार्टी को सहानुभूति लहर का फायदा मिल सकता है. वही विक्रांत भूरिया आदिवासी जाति से आते है. वर्तमान में विक्रांत भूरिया प्रदेश युवक कांग्रेस के अध्यक्ष भी है. विका्रंत भूरिया के पास युवाओं की अच्छी खासी लॉवी है. ऐसे में कांग्रेस के टिकट पर विक्रांत भूरिया प्रबल दावेदार माने जा रहे है. फिलहाल उपचुनाव के चलते लगातार दौरे हो रहे हैं. आने वाले एक दो दिनों में साफ हो जाएगा की कांग्रेस किसे टिकट देती है.

यह भी पढ़े - क्या दिग्विजय सिंह ने ले ली है कमलनाथ की जगह?
यह भी पढ़े - उमा के बाद BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दी धमकी

खंडवा लोकसभा से अरूण यादव फाइनल! 

खंडवा लोकसभा उपचुनाव की तारीखों की घोषणा होते ही कांग्रेस में दावेदारी को लेकर हलचल बढ़ गई है. खंडवा लोकसभा सीट से अरूण यादव संभावित उम्मीदवार माने जा रहे है, तो वही बुरहानपुर से निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र सिंह शेरा ने भी टिकट को लेकर दहाड़ मारी है. शेरा ने अपनी पत्नी जयश्री के लिए खंडवा से टिकट की मांग की है. शेरा की मांग के बाद अरूण यादव ने दिल्ली में डेरा डाल लिया है. लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा अरूण यादव को दी शुभकामनाओं ने राजनीतिक हलकों में हलचल मचा दी. खंडवा से अरूण यादव प्रबल दावेदार माने जा रहे है. हालांकि कांग्रेस के टिकट पर अंतिम मुहर कांग्रेस आलाकमान को लगाना है. अरूण यादव दिल्ली में आज कमलनाथ से मुलाकात भी करने वाले है. लेकिन इसी बीच दिग्विजय सिंह अरूण यादव को ट्वीटर पर बधाई दे डाली.

यह भी पढ़े - क्या दिग्विजय सिंह ने ले ली है कमलनाथ की जगह?
यह भी पढ़े - उमा के बाद BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा ने दी धमकी

दरअसल 1 अक्टूबर को खंडवा और पंधाना विधानसभा के पदाधिकारियों को चुनावी प्रशिक्षण और कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है. जिसकी जानकारी अरूण यादव ने ट्वीट पर पोस्ट की है. जिसपर दिग्विजय सिंह ने अरूण यादव को रिप्लाई करते हुए लिखा है, शुभकामनाएं अरूण दिग्विजय सिंह के इस ट्वीट से माना जा रहा है कि खंडवा लोकसभा सीट से अरूण यादव ही कांग्रेस के टीकट से उम्मीदवार होंगे.

चुनाव आयोग ने किया तारीखों का ऐलान

बता दें कि चुनाव आयोग ने 14 राज्यों में होने वाले उपचुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है. चुनाव आयोग के अनुसार देश की तीन लोकसभा सीट और 30 विधानसभा सीटों पर 30 अक्टूबर को उपचुनाव की वोटिंग होगी और परिणाम 2 नवंबर को आएंगे. नामांकन की प्रक्रिया 11 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी. 13 अक्टूबर को नाम वापसी के बाद 30 को मतदान होगा.


Leave Comments